अलवर हमले में पुलिस का दावा, गौतस्कर था उमर खान, दोनों ओर से हुई थी फायरिंग

ALWAR (750 x 425)
  • November 14, 2017
Share:

राजस्थान के अलवर जिले में उमर खान नाम के शख्स की हत्या का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले में पुलिस ने गौरक्षा के नाम पर लूटपाट करने वाले गैंग के दो सदस्य रामवीर गुर्जर और भगवान सिंह को गिरफ्तार किया गया है. इसी गैंग ने गोविंदगढ़ में अपने साथियों के साथ गाय लेकर जा रहे उमर खां की हत्या की थी. मामले के बारे में जानकारी देते हुए पुलिस ने कहा है कि इस गैंग के सरगना को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, गैंग के बाकी सदस्यों की तलाश में छापेमारी की जा रही है.

पुलिस ने दावा किया है कि उमर खान और उसके दो साथी गौतस्कर है. पुलिस ने कहा है कि ये लोग 9 नवंबर की रात को चोरी की पिकअप में गायों को लेकर जा रहे थे. पुलिस ने कहा है कि गैंग का सरगना नाबालिग है. इसको बाल अपचारी अपराध की धारओं के तहत गिरफ्तार किया गया है. पुलिस पूछताछ में आरोपी ने मान लिया है कि उसके गैंग के 6 लोगों ने इस वारदात को अंजाम दिया था. आरोपी ने कबूल कर लिया है कि उमर की हत्या करने के बाद उसके शव को इन्होंने ही रेलवे लाइन पर फेंक दिया था.

आप को बता दें कि गिरफ्त में आए इस नाबालिग ने गौरक्षा के नाम पर एक गैंग बना रखा था, जिसके जरीए ये गैंग हाईवे पर लूटपाट करता है. ये गैंग लोगों के पर्स छिनने से लेकर लूट की गाड़ियों के आटो पार्टस भी बेचने का काम करता है. इस गैंग ने शुक्रवार की सुबह भरतपुर के घाटमिका गांव जा रहे तीन मुस्लिम युवकों पर हमला किया था. हमले में गोली लगने से उमर खान की मौके पर मौत हो गई.

 

Tags


Comments

Leave A comment