कर्नाटक में अमित शाह की दो टूक, बोले लिंगायत समुदाय को अलग धर्म का दर्जा नहीं

  • April 4, 2018
Share:

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को लिंगायत और वीरशैव लिंगायत समुदाय को अलग धर्म का दर्जा देने को लेकर बड़ा बयान दिया है। भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसने सिर्फ वोट बैंक के लिए लिंगायत समुदाय का इस्तेमाल कर रही है। उन्होंने कहा कि लिंगायत और वीरशैव लिंगायत को धार्मिक अल्पसंख्यकों का दर्जा देना हिंदुओं को बांटने वाला कदम है। ये बातें उन्होंने कर्नाटक दौरे के वक्त कहीं।

उन्होंने कर्नाटक में ओबीसी कन्वेंशन को संबोधित किया और कहा कि वे भरोसा दिलाते हैं कि लिंगायत समुदाय को बंटने नहीं दिया जाएगा। जब तक भाजपा है तब तक कोई बंटवारा नहीं होगा। लिंगायत समुदाय को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा देने की सिद्धारमैया सरकार की सिफारिश को केंद्र सरकार स्वीकार नहीं करेगी।

इस दौरान अमित शाह ने कांग्रेस पर हमला बोला और कहा कि पिछले 70 सालों में कांग्रेस ने गरीब और पिछड़ा वर्ग के लिए कुछ नहीं किया है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पार्टी ने अन्य पिछड़ा वर्ग का उपयोग सिर्फ वोट बैंक और चुनाव के लिए किया है। उन्होंने गरीबों के विकास के लिए कुछ भी नहीं किया। अमित शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ओबीसी का ध्यान रखते हुए 116 योजनाएं बनाई है। ये बात अलग है कि कर्नाटक में बीजेपी की सरकार नहीं होने के कारण अभी तक केंद्र सरकार की सारी योजनाएं आप तक नहीं पहुंच पाई हैं लेकिन अब जब कर्नाटक में बीजेपी की सरकार आएगी तो यहां के समुदाय भी केंद्र की योजनाओं का फायदा उठा पाएंगे

Tags


Comments

Leave A comment