अमित शाह ने कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन को बताया अपवित्र, कांग्रेस शासन में 3100 किसानों ने की आत्महत्या

  • May 21, 2018
Share:

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन को जनादेश के खिलाफ बताते हुए उसे अपवित्र करार दिया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी कर्नाटक में सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभायेगी। साथ ही कांग्रेस पर हॉर्स ट्रेडिंग के नाम पर पूरा अस्तबल ही बेचने का आरोप लगाया।

कर्नाटक में बीजेपी के फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित नहीं कर पाने के बाद सोमवार को पहली बार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह मीडिया के सामने आए। कर्नाटक के कार्यकर्ताओं और मतदाताओं का हृदय से आभार जताते हुए बीजेपी अध्यक्ष में कांग्रेस-जेडीयू गठबंधन पर जोरदार हमला बोला। शाह ने दोनों दलों के गठबंधन को जनादेश के खिलाफ बताते हुए उसे अपवित्र करार दिया। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में बीजेपी ने पहले 40 सीटें जीती थी, और अब 104 सीटें जीत कर सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरे हैं, साथ ही वोट शेयर में भी बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

अमित शाह ने कांग्रेस और जेडीएस के अपने विधायकों को अभी होटल में रखा है और अभी भी वे पांच सितारा होटल में ही हैं। उन्हें विजय जुलूस नहीं निकालने दिया गया, अगर उन विधायकों को बाहर निकलने दिया गया होता, तो उन्हें जनता के मूड का पता चलाता और शायद हो सकता है कि जनता की आवाज सुनकर वो हमारे साथ आ जाते। उन्होंने कहा कि एक बार दोनों दल अपने विधायकों को बाहर छोड़ कर दिखाएं, संभव है कि उन्हें जनता और अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनाई दे।

उन्होंने कांग्रेस पर भ्रष्टाचार, कुशासन, तुष्टिकरण, दलित उत्पीड़न और महिला उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले 5 सालों में कांग्रेस शासन में 3100 किसानों ने आत्महत्या की। उन्होने कहा कि नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक को कई प्रोजेक्ट दिए, जो आजदी के बाद सबसे ज्यादा थे।

नोटा भी हार की वजह
पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि लोग बोल रहे हैं कि बीजेपी ने जब बहुमत नहीं था, तो सरकार क्यों बनाई। इस सवाल का जबाव देते हुए अमित शाह ने कहा कि जनता ने जनादेश हमें दिया था और हम सबसे बड़ी पार्टी थे, इसलिए हमने सरकार बनाने का दावा किया और इसमें कुछ अनुचित नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य में किसी दल को बहुमत नहीं मिला है, यहां तक कि कांग्रेस जनता ने कांग्रेस को भी नकारा है। उन्होंने कहा कि नोटा के चलतते वे 6 सीट हारे और बाकी की 7 सीटों पर हार का मार्जिन बेहद कम रहा। जिससे साबित होता है कि जनता ने बीजेपी को जनादेश देने की पूर्ण कोशिश की थी।

Tags


Comments

Leave A comment