कर्नाटक के लिए जारी हुआ बीजेपी का घोषणापत्र, किसानों का एक लाख रुपये तक का कर्ज होगा माफ

  • May 4, 2018
Share:

कर्नाटक में चुनाव प्रचार अब आखिरी मोड़ पर पहुंच गया है और बीजेपी ने प्रदेश के लिए अपना घोषणा पत्र जारी किया। बीजेपी के सीएम उम्मीदवार येदियुरप्पा, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर समेत कुछ अन्य वरिष्ठ नेताओं ने घोषणा पत्र जारी किया। बीजेपी ने किसान वर्ग और खेती के व्यवसाय से जुड़े लोगों को विशेष राहत देने पर जोर दिया। कांग्रेस से आगे बढ़ते हुए बीजेपी ने बीपीएल परिवारों के लिए स्मार्ट फोन और कॉलेज छात्रों के लिए लैपटॉप का वादा किया।

घोषणा पत्र जारी करते हुए येदियुरप्पा ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के सपने को पूरा करने के लिए बीजेपी की सरकार बनी तो किसानों का न्यूनतम समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से 1.5 गुना तय किया जाएगा। किसानों का कल्याण हमेशा हमारी प्राथमिकता रही है। 1,50,000 करोड़ की राशि विभिन्न कृषि योजनाओं के लिए आवंटित की जाएगी। बीजेपी सरकार सुनिश्चित करेगी कि हर इलाके में पानी पहुंच सके। 5,000 करोड़ रुपए रैथा बंधु मार्केट इंटरवेन्शन फंड के लिए दिए जाएंगे। साथ ही सरकार बनने पर पहली कैबिनेट बैठक में ही 1 लाख रुपये तक किसानों का कर्ज माफ करने का ऐलान कर दिया जाएगा.

घोषणा पत्र में ऐलान किया गया कि नीगलयोगी योजना के तहत 20 लाख छोटे किसान जिनकी जमीन बंजर है, उन्हें न्यूनतम 10 हजार रुपए तक की राशि आवंटित की जाएगी। मजदूरी करनेवाले भूमिहीन किसानों के लिए 2 लाख रुपए की बीमा योजना का प्रावधान किया जाएगा, ताकि उनके भविष्य को सुरक्षित रखा जा सके।

कांग्रेस के मोबाइल फोन देने की तर्ज पर बीपीएल परिवारों को स्मार्टफोन और कॉलेज छात्रों को लैपटॉप देगी। भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत 2 लाख रुपए दिए जाएंगे, जबकि कांग्रेस ने 3 ग्राम सोने की थाली का वादा किया। बीजेपी ने इंदिरा कैंटीन के तर्ज पर सस्ते खाने के लिए अन्नपूर्णा कैंटीन बनाने का भी वादा किया।

बीजेपी के घोषणापत्र के अनुसार, स्टार्टअप संस्कृति कर्नाटक में बीजेपी की सरकार में और विकसित होगी। इसके लिए 6 ‘K हब्स’ बनाए जाएंगे। हुबली, बेंगलुरु, रायचूर, मैसूर, मेंगलुरु और कलबुर्गी में देश का सबसे बड़ा को-वर्किंग स्पेस विकसित किया जाएगा।

Tags


Comments

Leave A comment