कांग्रेस की जनाक्रोश रैली आज, राहुल मिशन 2019 का करेंगे आगाज, बीजेपी को घेरेंगे राहुल

  • April 29, 2018
Share:

कांग्रेस दिल्ली में आयोजित जनाक्रोश रैली के माध्यम से 2019 लोकसभा चुनाव का बिगुल फूंकेगी। इसके अलावा कांग्रेस बीजेपी के साथ उन विपक्षी दलों को भी अपनी ताकत का अहसास कराना चाहती है जिन्हें लग रहा है कि मजोर पड़ गई कांग्रेस के बिना भी सत्ता परिवर्तन संभव है।

दरअसल, पार्टी इस रैली के जरिये दिल्ली और आसपास के राज्यों राजस्थान, हरियाणा, यूपी आदि में संगठनात्मक सक्रियता में इजाफा करना चाह रही है। तो दूसरी ओर देश के अन्य राज्यों से कार्यकर्ताओं को बुलाकर माहौल बनाने के साथ विपक्षी पार्टियों को विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी होने का अहसास भी कराना चाहती है।

एक और खास बात यै है कि पार्टी इसी बहाने विपक्षी एकता में उसे दूर रखने की कोशिशों में अपनी ताकत भी दिखाना चाहती है। ताकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व को लेकर उठने वाले सवालों का जवाब भी दिया जा सके।

बता दें कि यूपी में सपा-बसपा करीब आ गए हैं। अखिलेश-राहुल की मित्रता के बावजूद मुलायम सिंह यादव कांग्रेस के पक्ष में नहीं है। हरियाणा में बसपा चौटाला की पार्टी इनेलो से गठबंधन को तैयार है। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव के साथ डीएमके को जोड़ने की कवायद के बीच कांग्रेस खुद को साबित करना चाहती है।

रैली के प्रभारी और महासचिव संगठन अशोक गहलोत का कहना है कि जनाक्रोश रैली का अपना संदेश है। देश में आजादी के बाद पहली बार ऐसा माहौल है, जब समाज के सारे वर्ग सरकार को लेकर चिंतित हैं। भय, आशंका, घृणा और हिंसा का माहौल पहले कभी नहीं रहा है।

सरकार ने इतने मुद्दे दिए हैं, जिनकी कल्पना भी नहीं की जा सकती। इन हालात में देश के लोगों की भावनाओं को ध्यान में रखकर कांग्रेस रैली करने जा रही है। प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में आयोजित इस रैली से देश को राजनीतिक धार, दिशा और दशा मिलेगी। नया मोड़ नई जागृति की शुरूआत होगी।

Tags


Comments

Leave A comment