नोटबंदी की सालगिरह पर बोले जेटली, कहा- कांग्रेस का लक्ष्य परिवार की सेवा, हमारा लक्ष्य देश सेवा

arun- (750 x 425)
  • November 7, 2017
Share:

8 नवंबर को नोटबंदी की सालगिरह है. 8 नवंबर 2016 को पीएम मोदी ने देश में 500 और 1000 रूपये के नोट बंद करने का ऐलान किया था. ऐसे में कल यानि 8 नवंबर को बीजेपी नोटबंदी की सालगिरह को अपनी कामयाबी के रूप में मनाएगी. वहीं विपक्ष ने 8 नवंबर को ब्लैक डे के रूप में मनाने का फैसला किया है. नोटबंदी की सालगिरह से एक दिन पहले मंगलवार को वित्त मंत्री अरूण जेटली ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए नोटबंदी के फायदे बताए है.

जेटली की अहम बातें-

-10 साल तक कांग्रेस की सरकार ने कुछ भी नहीं किया, अब हमपर सवाल उठा रहे है.

-सरकार ने पहले एसआईटी बनाई, काले धन के खिलाफ एक्शन लिया.

-नोटबंदी के लिए पहले जो तैयारी होने चाहिए थी, सरकार ने पूरी तैयारी की थी.

-हम जिस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं उससे हम संतुष्ट हैं.

-हमने बेनामी संपत्ति पर कदम उठाए, नोटबंदी ने एजेंडे को बदला, डिजिटल ट्रांजैक्शन बढ़ा.

-ज्यादा कैश अर्थव्यवस्था के लिए ठीक नहीं है.

-कांग्रेस का मुख्य लक्ष्य परिवार की सेना, हमारा लक्ष्य देश की सेवा.

– कैश की कमी से भ्रष्टाचार कम हुआ.

-नोटबंदी से सबकुछ ठीक नहीं हो सकता, लेकिन ये जरूरी था.

– बैंकों में पैसा जाने से नोटबंदी की सफलता-विफलता का पता नहीं चलता

– पीएम मोदी ने लगातार ढांचागत बदलाव किए.

-इस फैसले से हर कोई खुश हो ऐसा नहीं है.

-नोटबंदी पर देश विदेश में चर्चा हुई है.

– नोटबंदी से देश में करदाताओं की संख्या बढ़ी.

– आतंकी फंडिंग पर नोटबंदी के बाद कसी नकेल.

– 2 जी, कॉमनवेल्थ और कोल ब्लॉक में आवंटन में लूट हुई.

– नोटबंदी के बाद फर्जी कंपनियों की पहचान आसान हुई.

– ज्यादा कैश में लेन-देन अर्थव्यवस्था के लिए ठीक नहीं.

Tags


Comments

Leave A comment