प्रद्युम्न केस के बाद जागी केंद्र सरकार, बच्चों की सुरक्षा पर आज हाई लेवल मीटिंग

javdekar (750 x 425)
  • September 13, 2017
Share:

गुरूग्राम के रयान इंटरनेशनल स्कूल में 7 साल के मासूम प्रद्यूम्न की हत्या ने कई सवाल खड़े कर दिए है. स्कूल में बच्चे की गला काटकर जिस तरह से हत्या की गई है उससे हर अभिभावक गुस्से में है. सभी अभिभावकों को अपने बच्चे की सुरक्षा की चिंता सता रही है. इस बीच स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर केंद्र सरकार जाग गई है.

स्कूलों में बच्चों को किस तरह से सुरक्षित रखा जा सकता है और क्या क्या कदम उठाए जा सकते है इसको लेकर महिला एवं बाल विकास मंत्रालय और मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने आज एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई है. इस मामले को लेकर एचआरडी मीनिस्टर प्रकाश जावड़ेकर ने महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी से मुलाकात की थी. आज होने वाली दोनों मंत्रालयों की इस मीटिंग में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग, सीबीएसई, एनसीईआरटी और केन्द्रीय विद्यालय  के अधिकारी भी शामिल होंगे.

इस बैठक का एजेंडा स्कूलों में बच्चों पर दुर्व्यवहार की बढ़ती घटनाओं को रोकने के उपायों पर चर्चा करना है. साथ ही सभी से इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए सुझाव लिए जाएंगे. प्रकाश जावड़ेकर पहले ही कह चुके है कि सरकार विचार कर रही है कि स्कूलों में हर जगह और स्कूल बसों में महिला कर्मचारियों की तैनाती की जाए.

आज होने वाली इस बैठक का मूल उद्देश्य वो गाइडलाइंस और प्रोटोकॉल हैं जिसे स्कूलों को हर हाल में पालन करना चाहिए ताकि बच्चों को किसी तरह के शारीरिक और मानसिक नुकसान से बचाया जा सके.

Tags


Comments

Leave A comment