बेनामी संपति रखने वालों की खैर नहीं, 3500 करोड़ से भी ज्यादा की संपति जब्त

  • January 11, 2018
Share:

नोटबंदी के बाद सरकार ने बेनामी संपति जुटाने वालों के खिलाफ बड़ा अभियान शुरू करते हुए कड़ी कार्रवाई की है. गुरूवार को वित्त मंत्रालय ने बताया है कि सरकार ने बेनामी संपत्ति रखने वालों पर कड़ी कार्रवाई की है. वित्त मंत्रालय ने कहा है कि आयकर विभाग ने बेनामी लेनदेन एक्ट के तहत अभी तक 3500 करोड़ रुपये की संपति अटैच की है.

वित्त मंत्रालय ने कहा है कि आयकर विभाग की तरफ से उठाए गए कदम की वजह से 900 से ज्यादा मामलों में प्रोविजन अटैचमेंट किया गया है. साथ ही आयकर विभाग ने प्लॉट, जमीन, फ्लैट, दुकानें, ज्वैलरी और वाहन भी अटैच किए हैं.

सरकार ने दी चेतावनी

इसी कड़ी में मोदी सरकार ने एक बार फिर बेनामी संपति वालों को चेताते हुए कहा है कि बेनामी लेनदेन से दूर रहें, नहीं तो 7 साल जेल की हवा खानी पड़ सकती है.

दरअसल आयकर विभाग ने देश के सभी बड़े अखबारों में एक अलर्ट जारी किया है. जिसमें कहा गया है कि देश का नागरिक बेनामी संपति, इस तरह के लेनदेन से दूर रहे, नहीं तो नये कानून के तहत 7 साल की जेल और जुर्माना हो सकता है. अखबार में आए इस अलर्ट को बेनामी लेनदेन से दूर रहे शीर्षक के साथ प्रकाशित किया गया है.

अलर्ट में कहा गया है कि कालाधन इंसानियत के खिलाफ एक गंभीर अपराध है. आयकर विभाग ने अपने विज्ञापन में लोगों से अपील करते हुए कहा है कि कालेधन से निपटने में सरकार की मदद करें.

Tags


Comments

Leave A comment