इंदु मल्होत्रा बनेंगी सुप्रीम कोर्ट की पहली महिला जज, शुक्रवार को ले सकती हैं शपथ

  • April 26, 2018
Share:

केंद्र सरकार ने वरिष्ठ वकील इंदु मल्होत्रा की सुप्रीम कोर्ट में बतौर जज नियुक्ति को मंजूरी दे दी है, जबकि उत्तराखंड के मुख्य न्यायाधीश केएम जोसेफ की सुप्रीम कोर्ट में नियुक्ति की फाइल को फिलहाल रोक कर रखा है। यह जानकारी बुधवार को कानून मंत्रालय के सूत्रों ने दी। माना जा रहा है कि इंदु मल्होत्रा शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट जज के तौर पर शपथ ले सकती हैं। वह वकील से सीधे सुप्रीम कोर्ट जज बनने वाली पहली महिला होंगी।

सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने 22 जनवरी को जस्टिस जोसेफ और मल्होत्रा की नियुक्ति की सिफारिश की थी। फरवरी के पहले हफ्ते में दोबारा सिफारिश मिलने के बाद कानून मंत्रालय ने दोनों की नियुक्ति को रोक दिया था क्योंकि वह केवल मल्होत्रा के नाम को स्वीकृति देना चाहता था। सूत्रों का कहना है कि अप्रैल के पहले हफ्ते में केंद्र सरकार ने इंदु मल्होत्रा की फाइल खुफिया ब्यूरो (आईबी) के पास भेजी थी। वहां से हरी झंडी मिलने पर केंद्र ने उनकी नियुक्ति को हरी झंडी दे दी है।

सूत्रों के मुताबिक जस्टिस जोसेफ के नाम की सिफारिश पर सरकार को लग रहा है कि कोलेजियम ने वरिष्ठता और क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व को नजरअंदाज किया है। जस्टिस जोसेफ हाईकोर्ट के 669 जजों की वरिष्ठता सूची में 42वें नंबर पर हैं। दरअसल जस्टिस जोसेफ ने अप्रैल 2016 में उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने के केंद्र सरकार के फैसले को खारिज कर दिया था। इससे पहले कानूनी विशेषज्ञों ने एक नाम को मंजूरी देने और दूसरे को रोके रखने की सरकार की मंशा के खिलाफ अपनी राय दी थी।

Tags


Comments

Leave A comment