ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा- कपिल सिब्बल ने कोर्ट में जो कहा हमसे पूछकर कहा

kapil sibble (750 x 425)
  • December 7, 2017
Share:

राम मंदिर बाबरी मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई ने एक नई बहस को जन्म दे दिया है. सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड की तरफ से कपिल सिब्बल ने कोर्ट से मांग की है कि इस मामले की सुनवाई को 2019 लोकसभा चुनाव तक टाला जाना चाहिए. इस पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा है कि वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट में जो कहा है वह हमसे पूछकर ही कहा है. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना वली रहमानी ने कहा है कि सिब्बल ने उनकी और दूसरे मुस्लिम पक्षकारों से बात की थी, इसके बाद ही उन्होंने सुनवाई के दौरान इस मसले को 2019 के आम चुनाव तक टालने की बात कही है.

रहमानी ने कहा है कि राम मंदिर-बाबदी मस्जिद मसले में सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्ष के अधिवक्ता सिब्बल ने जो भी बात कही है वह उनसे और अन्य मुस्लिम पक्षकारों से सलाह मशविरा करने के बाद कही है. रहमानी ने कहा है कि इस मसले पर सुनवाई का ये सही समय़ नहीं है. उनका मानना है कि अगर इस मामले की अगली सुनवाई शुरू हुई तो इसका राजनीतिक फायदा उठाया जाएगा.

वहीं सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष जुफर फारूकी ने कहा है कि हम मामते हैं कि मामले की जल्द से जल्द सुनवाई की जाए और मसले का समाधान निकले.

 

 

Tags


Comments

Leave A comment