पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से धर्मेंद्र प्रधान ने झाड़ा पल्ला, कहा- जीएसटी को लागू करना ही एकमात्र समाधान

Dharmendra-Pradhan (750 x 425)
  • September 13, 2017
Share:

पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे है. जबकि अंतर्राष्ट्रीय मार्किट में कच्चे तेल की कीमतें कम हुई है. मोदी सरकार के राज में ऐसा पहली बार हुई है जब पेट्रोल की कीमत 80 रूपये तक पहुंच गई है. ऐसे में लगातार बढ़ रही कीमतों को देखते हुए सरकार जाग गई है. वहीं पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर कहा है कि हम चाहते हैं कि पेट्रोलियम को जीएसटी के अंतर्गत लाया जाए. धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि वित्त मंत्री अरूण जेटली   राज्य सरकारों से इस बारे में कह चुके हैं अगर इसे जीएसटी के तहत लाया जाता है तो कीमतों का पूर्वानुमान किया जा सकता है.

पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों ने देश की राजनीति भी गरमा दी है. यहां तक की सरकार की सहयोगी जेडीयू ने भी इस मसले पर सरकार को घेरा है. जेडीयू नेता केसी त्यागी ने केंद्र सरकार से पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों को वापस लेने की मांग की है. जबकि कांग्रेस ने कहा है कि कच्चे तेल के दाम लगातार गिर रहे हैं, फिर भी केंद्र सरकार आम लोगों को इसका लाभ नहीं दे रही है.

अभी ये है पेट्रोल डीजल के दाम

दिल्ली – पेट्रोल 70.38 रुपए प्रति लीटर, डीजल 58.72 रुपए

मुंबई – पेट्रोल 79.48 रुपए प्रति लीटर, डीजल 62.37 रुपए प्रति लीटर

कोलकाता – पेट्रोल 73.12 रुपए प्रति लीटर

चेन्नई- पेट्रोल की कीमत 72.95 रुपए प्रति लीटर

 

Tags


Comments

Leave A comment