कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए थम गया प्रचार, अब 12 मई को वोटिंग

  • May 10, 2018
Share:

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में तमाम राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारकों के बीच जुबानी जंग थम गई है। आज शाम पांच बजे आधिकारिक रूप से चुनाव प्रचार थम गया है। अब राज्य की 224 सीटों पर ताल ठोक रहे 2,654 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला मतदाताओं के हाथों में है। 12 मई को मतदान होगा और 15 मई को तय होगा कि कौन विधानसभा जाएगा और कौन घर बैठेगा।

गुरुवार को खत्म हुए प्रचार के दौरान भाजपा और कांग्रेस ने एक-दूसरे पर तीखे हमले किए तो राज्य का तीसरा बड़ा दल जद (एस) दोनों के निशाने पर रहा। पीएम नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रचार अभियान शुरू करने के बाद विधानसभा चुनाव मोदी बनाम राहुल बन गया। इस फेर में महादयी, कावेरी जल बंटवारा, रोजगार, सड़क, पेयजल, बिजली से जुड़े स्थानीय मुद्दों पर कम ही बात हुई।

बता दें कि कर्नाटक में 12 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान के लिए करीब 1.5 लाख सुरक्षा बल तैनात किए जाएंगे। एक अधिकारी ने बताया कि इसमें 50 हजार से अधिक केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के जवान भी शामिल होंगे।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दक्षिणी राज्य में होने वाली चुनाव प्रक्रिया के दौरान कड़ी निगरानी रखने व शांति सुनिश्चित करने के लिए सीआरपीएफ, बीएसएफ और आईटीबीपी जैसे अर्द्धसैनिक बलों से करीब 520 कंपनियों को तैनात करने का फैसला किया है।

केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि केंद्रीय सुरक्षा बल राज्य पुलिस के करीब एक लाख जवानों को सहयोग करेंगे। अर्द्धसैनिक बल की एक कंपनी में करीब 100 जवान होते हैं। अधिकतर अर्द्धसैनिक बलों की कंपनी पहले ही कर्नाटक पहुंच चुकी है। 224 सदस्यों वाली विधानसभा के लिए राज्य के करीब 4.96 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। राज्य में 56,600 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

Tags


Comments

Leave A comment