सिब्बल की बात पर अमित शाह ने पूछा, क्या राम मंदिर पर जल्द सुनवाई नहीं चाहती कांग्रेस?

amit shah (750 x 425)
  • December 6, 2017
Share:

68 साल पुराने राम मंदिर बाबरी मस्जिद विवाद पर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान सुन्नी वक्फ बोर्ड की तरफ से कपिल सिब्बल ने कोर्ट से मांग की है कि इस मामले की सुनवाई को 2019 लोकसभा चुनाव तक टाला जाना चाहिए. कपिल सिब्बल ने कहा कि मामले की सुनवाई 2019 में होने वाले आम चुनाव के बाद शुरू की जानी चाहिए. इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट में अगली सुनवाई 8 फरवरी 2018 को होगी.

कपिल सिब्बल के 2019 तक सुनवाई टालने वाले तर्क को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस कर कांग्रेस पर सवाल उठाए है. अमित शाह ने कहा है कि बीजेपी चाहती है कि मुद्दे पर जल्द से जल्द सुनवाई है और मामले का समाधान निकले. अमित शाह ने कहा कि इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो और फैसला आए. जिससे अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर बन सके, जो कि देश की आस्था से जुड़ा हुआ है.

शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस राम मंदिर की सुनवाई को रोककर क्या हासिल करना चाहती है. अमित शाह ने कहा कि राम मंदिर मामले पर कांग्रेस को अपना रूख साफ करना चाहिए और राहुल गांधी को बताया चाहिए कि वह क्या चाहते है. अमित शाह ने कहा कि एक तरफ राहुल गांधी गुजरात में मंदिर जा रहे हैं, तो दूसरी तरफ राम जन्मभूमि केस पर सुनवाई को टालने के लिए कपिल सिब्बल का उपयोग किया जा रहा है.

Tags


Comments

Leave A comment