शेल कंपनियों की अब खैर नहीं, रजिस्ट्रेशन रद्द होने के बाद अब एक लाख निदेशकों को अयोग्य घोषित करेगी सरकार

Arun-Jaitley (750 x 425)
  • September 13, 2017
Share:

सरकार ने शेल कंपनियों के लिए खतरे की घंटी बजा दी है. पहले 2 लाख से ज्यादा शेल कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द करने और उनके बैंक खाते सीज़ करने के बाद अब सरकार ने अगला कदम आगे बढ़ा दिया है. सरकार ने फैसला किया है कि शेल कंपनियों से जुड़े एक लाख से अधिक निदेशकों को अयोग्य घोषित किया जाएगा.

सरकार ने आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा है कि मंत्रालय ने 12 सितंबर, 2017 तक कंपनी कानून 2013 की धारा 164(2)(ए) के तहत अयोग्य घोषित करने के लिए 1,06,578 निदेशकों की पहचान की है.

इन शेल कंपनियों पर ये कार्रवाई इसलिए हुई है क्योंकि ये कंपनियां जरूरी नियमों का पालन नहीं कर रही थी. सरकार ने इन सभी शेल कंपनियों के बैंक खातों को भी सीज कर दिया है. ऐसे में सरकार अब इन सभी शेल कंपनियों के डायरेक्‍टर्स के खिलाफ कार्रवाई करेगी.

सरकार ने इन कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द करने के साथ साथ इनके बैंक खातों से लेन देन पर भी रोक लगा दी है. सरकार ने कहा है कि अगर बैंक खातों से पैसा निकालने की कोशि‍श की गई तो 10 साल तक की सजा हो सकती है.

Tags


Comments

Leave A comment