शोपियां फायरिंग को लेकर सेना ने कहा- अगर नहीं चलाते गोली तो पत्थरबाज कई जवानों की ले लेते जान

  • February 2, 2018
Share:

जम्मू कश्मीर में सेना पर दर्ज हुई एफआईआर को लेकर मामला गर्मा गया है. सेना ने अपनी कार्रवाई का बचाव करते हुए कहा है कि उस वक्त सेना के लिए कार्रवाई करना जरूरी हो गया था. सेना ने कहा है कि अगर सेना शोपियां में पत्थरबाजों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती तो पत्थरबाज कई जवानों की जान ले लेते.

इससे पहले सेना ने बुधवार को शोपिया फायरिंग में आर्मी पर दर्ज हुई एफआईआर पर काउंटर एफआईआर दर्ज करवाई है. उस मामले पर लेफ्टिनेंट जनरल डी.अंबू ने कड़ा रूख अपनाते हुए कहा है कि जवानों पर एफआईआर दर्ज होने बेहद दुखद है. लेफ्टिनेंट जनरल डी.अंबू ने कहा है कि इस मामले की जांच होनी चाहिए जिससे सच्चाई पता चल जाएगी.

सेना के काफिले पर किया हमला

दरअसल पत्थरबाजों ने शोपियां जिले के गनोवपुरा गांव से गुजर रहे सेना के एक काफिले पर पत्थरबाजी की. जवाब में सेना के जवानों ने पत्थरबाजों को खदेड़ने के लिए कई बार हवाई फायरिंग की, इसमें 3 लोगों की मौत हो गई थी जबकि कई लोग घायल हुए थे. एक रक्षा प्रवक्ता ने कहा था कि उग्र भीड़ ने एक जूनियर कमीशंड अधिकारी की पीट-पीटकर हत्या करने की कोशिश की और उनका हथियार छीन लिया. जिसके बाद जवानों ने कड़ी कार्रवाई करते हुए गोलियां चलाईं है. इस मामले पर जम्मू कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने जांच के आदेश दिया थे.

सुब्रमण्यम स्वामी ने खोल मोर्चा 

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मोर्चा खोल दिया है. बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि सेना पर जो एफआईआर दर्ज की गई है वो गलत है. स्वामी ने कहा है कि अगर मेरी बात को नहीं सुना गया को मैं इस मामले को संसद में उठाऊंगा.

स्वामी ने कहा कि जम्मू कश्मीर की सीएम ने कहा है कि उन्होंने इस मामले को रक्षा मंत्री के सामने उठाया है. अगर ऐसा है तो फिर रक्षा मंत्री की चुप्पी पर सवाल उठते है.

 

Tags


Comments

Leave A comment