केंद्र सरकार बताए दुनिया में मौत की सज़ा कैसे-कैसे दी जाती है?- सुप्रीम कोर्ट

  • January 9, 2018
Share:

सुप्रीम कोर्ट में आज फांसी के विकल्प की याचिका पर सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने फांसी के विकल्प को लेकर केंद्र सरकार से जवाब तलब किया है. केंद्र सरकार को फांसी के विकल्प पर चार हफ्ते में सुप्रीम कोर्ट में जवाब देना होगा. सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने कहा कि हम यह नहीं कह रहे कि सजा ए मौत कैसे दी जाए. बल्कि, केंद्र सरकार बताए कि दूसरे देशों में मौत की सजा कैसे दी जाती है?

सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने कहा कि इसको बताने के लिए 4 हफ्ते का वक्त दिया जाए जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया. दरअसल इस मामले में याचिकाकर्ता ने कोर्ट में कहा है कि फांसी की सजा अमानवीय और बर्बर है. ऐसे में आज के समय में मौत की सजा ऐसी होनी चाहिए जिसमें दर्द कम हो.

याचिका में कहा गया है कि फांसी की सज़ा से पहले जो डर होता है वह ज्यादा दुखदायी होता है. याचिका में कहा गया है कि फांसी के फंदे पर लटकाने में 40 मिनट लगते है, लेकिन इंजेक्शन, गोली मारने और बिजली के झटके से मारने में महज कुछ मिनट.

Tags


Comments

Leave A comment