आसाराम के खिलाफ लगी हैं ये गंभीर धाराएं, कम से कम 10 साल या हो सकती है उम्रकैद

  • April 25, 2018
Share:

नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में आसाराम को स्पेशल कोर्ट ने दोषी करार दिया है। साढ़े चार साल से जोधपुर जेल में बंद अासाराम के खिलाफ अपनी ही शिष्या से दुष्कर्म करने का अारोप था। बताया जा रहा है कि आज ही सजा का ऐलान भी हो सकता है।
आसाराम पर 13 फरवरी 2014 को चार्ज तय किए गए। चार्जशीट में आसाराम पर धारा 370 (4), 342, 354ए, 506, 509, 376, 376(2)एफ, 376 डी, 506, 509/34, 120बी, 109 के तहत आरोप तय किए गए। साथ ही पॉक्सो की धारा-5, 6, 7, 8 व 17 के तहत और जेजे एक्ट की धारा 23 व 26 के तहत भी आरोप तय हुए। गौर करने वाली बात यह है कि आसाराम के खिलाफ जिन धाराओं में केस दर्ज किया गया है उनमें कम से कम 10 साल या उम्रकैद तक कि सजा का प्रावधान है।

खास बातें-

21 अगस्त 2013 : जोधपुर के महिला थाने में विधिवत एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू।
31 अगस्त 2013 : काफी मशक्कत के बाद आसाराम छिंदवाड़ा आश्रम से गिरफ्तार।
01 सितंबर 2013 : आसाराम को जोधपुर लाया गया
13 फरवरी 2014 : आसाराम के खिलाफ अदालत में आरोप तय किए गए
16 दिसंबर 2016 से विशेष अदालत में केस हुआ शुरू
07 अप्रैल 2018 : अंतिम बहस पूरी, फैसला सुरक्षित, फैसला के लिए 25 अप्रैल की तारीख
02 सितंबर 2013 से ही न्यायिक हिरासत में है आसाराम

Tags


Comments

Leave A comment