पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव के लिए वोटिंग जारी, मंत्री ने बीजेपी समर्थक को सरेआम मारा थप्पड़

  • May 14, 2018
Share:

लंबी कानूनी लड़ाई के बाद पश्चिम बंगाल के बहु-प्रतीक्षित पंचायत चुनावों के लिए सोमवार को कड़ी सुरक्षा के बीच 20 जिलों के लिए सुबह 6.30 बजे से मतदान जारी है। हाथों में छाते लिए जलपाईगुड़ी के आशीघर में मतदाता मतदान केंद्र के बाहर लाइन में खड़े नजर आए। पुरुलिया के चकरा में भी अपना वोट डालने के लिए मतदाता लाइन में खड़े नजर आए। फिलहाल सभी जगहों पर शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव हो रहे हैं। अगले साल होने वाले आम चुनावों से पहले इसे काफी अहम माना जा रहा है।

वोटिंग के दौरान कुछेक इलाकों से हिंसा की खबरें भी हैं। हालांकि ज्यादातर इलाकों में मतदान शांतिपूर्ण चल रहा है। आरोप है कि टीएमसी के कथित कार्यकर्ताओं ने लोगों को बीरपारा के बूथ नंबर 14/79 में मतदान करने से रोका। तो दूसरी ओर, भानगढ़ में एक मीडिया के वाहन को आग लगा दी गई है और कैमरा भी तोड़ दिया गया है।

तो वहीं, स्थानीय लोगों ने भानगढ़ के रोड को ब्लॉक कर दिया है। उनका आरोप है कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बूथ कैप्चर कर लिया है। इस बीच खबर ये भी है कि भाजपा समर्थक के तौर पर सुजीत कुमार दास की पहचान होने के बाद उन्हें पश्चिम बंगाल के मंत्री रबिंद्र नाथ घोष ने कूच बिहार के बूथ नंबर 8/12 में पुलिस के सामने थप्पड़ मार दिया।

बता दें कि राजनीतिक दल इसे लोकसभा चुनावों से पहले अपनी ताकत के परीक्षण के तौर पर देख रहे हैं। शाम पांच बजे वोटिंग थम जाएगी और मतगणना 17 मई को होगी।

चुनाव आयोग ने मतदान के लिए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। इसके लिए असम, ओडिशा, सिक्किम और आंध्र प्रदेश से लगभग डेढ़ हजार सुरक्षाकर्मी बुलाए गए हैं। इसके अलावा राज्य पुलिस के 46 हजार, कोलकाता पुलिस के 12 हजार और विभिन्न विभागों के दो हजार जवानों को मतदान केंद्रों पर तैनात किया जाएगा। सुरक्षा बलों ने रविवार को राज्य के विभिन्न हिस्सों में रूट मार्च किया है।

राज्य निर्वाचन आयोग के मुताबिक, 3,358 ग्राम पंचायतों की 48,650 में से 16,814 सीटों पर उम्मीदवार निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। वहीं 31 पंचायत समितियों की 9,217 में से 3,059 सीटों पर उम्मीदवारों को निर्विरोध चुना गया है। इसी तरह 20 जिला परिषदों की 825 में से 203 सीटों पर मुकाबला निर्विरोध रहा है।

Tags


Comments

Leave A comment