जोहरा को रोता देख भावुक हुए राजनाथ सिंह, कहा- उसका दर्द दिल से नहीं निकलता

ZOHRA (750 x 425)
  • September 10, 2017
Share:

गृहमंत्री राजनाथ सिंह 4 दिन के जम्मू कश्मीर दौरे पर है. आज राजनाथ सिंह ने अपने दौरे के दूसरे दिन अनंतनाग में पुलिस के जवानों से मुलाकात की. जवानों से मुलाकात करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि आतंकी हमले में शहीद हुए ASI अब्दुल रशीद की बेटी जोहरा का चेहरा उनकी आखों के सामने रहता है. राजनाथ सिंह जोहरा के रोते हुए चेहरो को याद कर भावुक हो गए.

जवानों से बात करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने जोहरा की रोते हुए फोटो देखी, दिल से उसका दर्द निकलता नहीं है. राजनाथ सिंह ने जवानों की शहादत को सलाम करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर पुलिस के जवानों का बलिदान सर्वोच्च बलिदान है. राजनाथ सिंह ने कहा कि जवान यह बलिदान वह अपने लिए नहीं बल्कि देश, कश्मीर और कश्मीरियों के लिए दे रहे हैं.

जोहरा के पिता आतंकी हमले में हुए थे शहीद

जम्मू कश्मीर में एएसआई अब्दुल राशिद अनंतनाग में आतंकी हमले में शहीद हो गए थे. अब्दुल राशिद को जब श्रद्धांजलि दी गई तो आंसूओं का सैलाब आ गया था. अपने पिता को श्रद्धांजलि देने पहुंची 8 साल की जोहरा का रो रो कर बुरा हाल था. जोहरा की रोती हुई तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी. जिस वक्त अब्दुल राशिद ड्यूटी से लौट रहे थे उस वक्त आतंकियों की गोली का शिकार बन गए थे. पिता की मौत की खबर ज़ोहरा को दी गई तो वह लगातार रोने लगी. जोहरा की रोती हुई तस्वीर देखकर दक्षिणी कश्मीर पुलिस के DIG भी अपने आपको नहीं रोक पाए. जिसके बाद डीआईजी ने जोहरा के नाम एक खत लिखा था. जिसमें डीआईजी ने लिखा था कि जोहरा, तुम्हारे आंसू हमारे कलेजों को झुलसा रहे हैं. तुम्हारे पिता ने जो बलिदान दिया है, उसे देश हमेशा याद रखेगा.

Tags


Comments

Leave A comment